सोशल ट्रैफिक या सोशल मीडिया ट्रैफिक क्या है और इसका क्या फायदा है

word image

मेरे तरह शायद हर किसी का तमन्ना होता है कि आज ब्लॉग बनाए और कल हजारों ट्रैफिक इसपर आने लगे, पर ऐसा तो संभव नहीं है

मेरे हिसाब से एक ब्लॉग, आम के पेड़ के समान है, जो लगातार मेहनत के तीन चार साल फल देता है और अगर आपने गलत ट्रैक पकड़ लिया है, तो पांच दस साल बाद भी मुश्किल हो सकता है।

खैर इन सब फालतू बातों को किनारे रखते हुए आगे बढ़ते है।

अगर आपने अभी या कुछ महीने पहले आपका ब्लॉग बनाया है और हर दिन नया कंटेंट पब्लिश करने के बाद भी ट्रैफिक नहीं आ रहा है, तो इसमें समय लगेगा ही।

चाहे आप कितना भी भरकश प्रयास करें, नए ब्लॉग को सर्च पेज में रैंक करने में समय लगता है और इसी वजह से ऑर्गेनिक ट्रैफिक एक सपना भर है।

इसलिए आपको अलग से सोशल मीडिया पर भी ध्यान देना चाहिए क्योंकि यहां आप जल्दी ही अच्छा ट्रैफिक मिल सकता है, अगर आप पहले से किसी सोशल मीडिया का इस्तेमाल करते हो और आपको इसे मैनेज करने आता हो।

इसके अलावा अगर आप नए है, तो इसे जल्दी सीखना ज्यादा मुश्किल भी नहीं है।

सोशल मीडिया इस्तेमाल की वजह

पहली बात जब आप कोई नया ब्लॉग बनाते है, तो वह इतना फेमस नहीं होता है कि सभी लोग विजिट करेंगे और जहां तक बात ऑर्गेनिक विजिट्स का है, तो यह नए ब्लॉग में कतई संभव नहीं है।

इसके अलावा नए ब्लॉग को एडवर्टाइज करना बेकार है, अगर यह कोई सर्विस साइट्स (ट्यूटोरियल या कोर्स) वाला नहीं है।

दूसरी तरफ आप अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के मदद से किसी साइट के ट्रैफिक को रातों – रात भी नहीं बढ़ाया जा सकता है।

तीसरी ओर कई ब्लॉगर गेस्ट पोस्ट के द्वारा भी ट्रैफिक ड्राइव करने की भी बात करते है, पर इस टैक्टिक्स से कुछ और फायदा हो सकता है, पर ट्रैफिक की बात करना बेकार है।

क्योंकि गेस्ट पोस्ट में ज्यादातर आपके साइट का लिंक ऑथर प्रोफाइल में दिया जाता है और किसे इतना टाइम होगा उसपर क्लिक करने का।

सोशल मीडिया का फायदा

एक तो ये फ्री है और इसे इस्तेमाल करना काफी आसान है, अगर आप इसे कुछ सीखने का प्रयास करते है।

यहां पर आप कुछ महीनों या सालों में हजारों नए फ्रेंड्स बना सकते है और खुद के ब्लॉग का प्रचार भी कर सकते है।

इसे लगभग सर्विसेस को मुफ्त में इस्तेमाल किया जा सकता है, सिवाय कुछ फीचर्स जैसे अगर आप अपने किसी प्रोडक्ट या सर्विस का प्रचार करने चाहते है, तो इसके लिए आपको कुछ चार्ज देना पड़ सकता है।

ओवरऑल शुरुआती दौर में किसी ब्लॉग के प्रचार के लिए सर्वोत्तम साधन है।

टॉप 5 सोशल मीडिया सर्विसेज

अभी के समय इंटरनेट पर बहुत सारे सोशल मीडिया सर्विसेज मौजूद है और सभी के फीचर्स आपस में काफी हद तक मिलते भी है और काफी अलग भी।

इसी वजह से कौन बढ़िया है या कौन बुरा है यह बता पाना काफी कठिन है।

इसी वजह से में आपके सामने 5 सोशल साइट्स को बता रहा हूँ और इन सबके फीचर्स भी एक दूसरे से काफी भिन्न है।

WhatsApp

व्हाट्सऐप अभी के समय काफी पॉपुलर है, जिसे टेक्स्ट और मीडिया बेस्ड मैसेंजिंग के लिए 2 बिलिशन से ज्यादा आदमी इस्तेमाल करता है।

अपने ब्लॉग के प्रचार के लिए आप यहां दोस्तों को लिंक शेयर कर सकते है या फिर ग्रुप बनाकर ग्रुप मेसेज भी कर सकते है।

अभी के समय ज्यादातर लोगों के स्मार्टफोन में इसका ऐप इंस्टॉल रहता है और इसमें आए किसी भी नोटिफिकेशन को मिस्ड करना लोग नहीं पसंद करते है।

यही वजह से है कि आपके नए ब्लॉग के लिए यह ऐप बहुत ही फायदेमंद रहेगा।

Facebook

फेसबुक कंपनी की स्थापना मार्क जुकरबर्ग ने 2004 में किया था।

इसमें लोगों को जोड़ने के लिए फ्रेंड्स रिक्वेस्ट करते है और उसके एक्सेप्ट करने बाद ही आप उससे चैट कर सकते है।

यह शुरआत से ही काफी पॉपुलर रहा है और कुछ दिनों पहले इसने अपने कम्पनी का नाम बदलकर मेटा कर लिया है।

गौरतलब है कि वॉट्सएप का परेंट कंपनी फेसबुक मतलब मेटा ही है।

यहां पर आप दोस्तों से चैट करना, फोटो और वीडियो शेयर करना जैसे काम कर सकते है और लगातार इस प्लेटफार्म में एक्टिव रहकर अपने ब्लॉग का फॉलोअर भी बढ़ा सकते है।

Twitter

ट्विटर जैक डोर्से के द्वारा 21 मार्च, 2006 को अमेरिका में लॉन्च किया गया था। इसमें ज्यादातर आप अपने ब्लॉग से जुड़े कोई पोस्ट या टैक्टिक्स को शेयर कर सकते है।

इस पर आप अपने वेबसाइट या ब्लॉग को कोई पेज शेयर कर सकते है और सिम्पल ट्वीट भी कर सकते है।

हाल ही में ट्विटर ने अपने प्लेटफॉर्म पर ट्वीट को प्रोमोट करने का सर्विस लॉन्च किया है और सर्विसेस के द्वारा किसी ट्वीट को ज्यादा से ज्यादा लोगों के बीच आसानी से पहुंचाया जा सकता है।

LinkedIn

अगर आप फ़ेसबुक जैसे सोशल साइट इस्तेमाल नहीं करते है या फिर इसके तरह ही कोई और सोशल साइट इस्तेमाल करना चाहते है, तो आप लिंक्डइन को बेशक इस्तेमाल कर सकते है।

इस का नविगेशन फेसबुक से अच्छा है और इसे इस्तेमाल करने काफी आसान है।

इसे बहुत सारे आईटी कंपनी यथा गूगल, ट्विटर जैसे साइट भी अपने कंपनी को प्रोमोट करने के लिए भी इस्तेमाल करती है।

Quora

कोरा सवाल जवाब करने वाला वेबसाईट है, जहां पर आप खुद का अकाउंट बनाकर कोई सवाल इस प्लेटफॉर्म पर पूंछ सकते है या फिर किसी और के सवालों का जवाब भी आप दे सकते है।

यह साइट बहुत पॉपुलर है खासकर उनके लिए जो बहुत सारे सवाल करना चाहते है और इसके जवाब जानना चाहते है।

ज्यादातर लोग इस पर किसी मंच से जुड़कर सवाल जवाब करते है और आपके किसी सवाल को ज्यादा उपवोट या कॉमेंट करने से आपके पेज का ब्रांड वैल्यू भी इंक्रीज होता है और इसका फायदा आपको आगे चलकर ब्लॉग में भी मिल सकता है।

Conclusion

ओवरऑल ऊपर दिए गए सभी सोशल साइट्स है और सभी का अपना अपना फीचर्स है, जो आपके साइट के ट्रैफिक को बढ़ाने में मदद कर सकता है।

तो आज के लिए इतना ही और आज आपको को मेरा पोस्ट कैसा लगा हमें कॉमेंट करके बताए और हो सके तो इसे अपने सोशल साइट्स पर भी जरूर शेयर करें।

Leave a Reply

%d bloggers like this: